13-14 जनवरी से देश में शुरू हो सकता है टीकाकरण, स्वास्थ्य सचिव ने दिये संकेत | #NayaSaberaNetwork

नया सबेरा नेटवर्क
नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन मंजूरी  मिलने के 10 दिन बाद से टीकाकरण शुरू किया जा सकता है। गौरतलब है कि कोरोना वैक्सीन को DCGI ने  3 जनवरी रविवार को मंजूरी दी थी। इस लिहाज से 13 या 14 जनवरी से देश में कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू किया जा सकता है। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इस बारे में स्पष्ट संकेत दिये हैं।
13-14 जनवरी से देश में शुरू हो सकता है टीकाकरण, स्वास्थ्य सचिव ने दिये संकेत | #NayaSaberaNetwork


केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव भूषण ने अहम जानकारी देते हुए कहा कि हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाईन वर्कर्स को रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत नहीं होगी, क्योंकि उनका डाटा पहले ही सरकार के पास है। जिसे कोविन ऐप पर लोड करने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। पूरे टीकाकरण अभियान के दौरान कोविन (Co-Win) ऐप का इस्तेमाल जाना है। बता दें कि भारत में सरकार और DCGI ने पहले ही सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोवाक्सिन (Covaxin) को इस्तेमाल की मंजूरी दी है। 
बता दें कि विभिन्न राज्य सरकारों ने ड्राइ रन के बाद पुष्टि की है कि उनके यहां टीकाकरण की पूरी व्यवस्था कर ली गई है। केंद्र सरकार और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बस आधिकारिक घोषणा होने की देरी है। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में भी कोरोना के खिलाफ आखिरी जंग को लेकर प्रशासन कमर कसे हुए है। आंध्र प्रदेश में वाई एस जगन मोहन रेड्डी की सरकार ने टीकाकरण को लेकर व्यापक संसाधन जुटाए हैं। राज्य में बस केंद्र सरकार द्वारा आधिकारिक तारीख घोषित किये जाने का इंतजार है। 

बिहार में टीकाकरण को लेकर बड़ी तैयारी 
बिहार में कोरोना टीकाकरण को लेकर राजधानी से लेकर राज्य के प्रखंडों और गांवों तक में तैयारी पूरी कर ली गई है। राज्य सरकार का मानना है कि केंद्र सरकार द्वारा पूरी तकनीकी मदद मिल रही है। इस बीच, टीका (वैक्सीन) को सुरक्षित रखने के लिए प्रखंडों तक में व्यवस्था की गई है। बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि, "राज्य में कोविड जैसी वैश्विक महामारी से निपटने के लिए कोविशील्ड और कोवैक्सीन की गुणवत्ता बनाये रखने के लिए जिला स्तर तक शीत श्रृखंला उपकरण (कोल्ड चेन इक्वीपमेंट) का उपयोग किया जाएगा।" पांडेय ने बताया कि, "कोविड वैक्सीन के रख-रखाव के लिए केंद्र सरकार ने अतिरिक्त संसाधन का आवंटन किया है, जिसमें 539 डीप फ्रीजर, 432 आइस लाइंड रेफ्रिजरेटर, 8 वॉक कूलर और 2 वॉक फ्रीजर शामिल हैं। इसमें से 423 आइस लाइंड रेफ्रिजरेटर जिलों को आवंटित कर दिए गए हैं।" पांडेय ने राज्य में कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीनेशन की पूरी तैयारी होने का दावा करते हुए कहा कि, "प्रथम चरण में कोविड पोर्टल पर स्वास्थ्यकर्मियों (सरकारी व गैर सरकारी) लाभार्थियों का निबंधन किया जा चुका है। टीकाकरण के लिए 65 हजार टीकाकर्मी चिह्न्ति किये गये हैं, जिनकी सेवा ली जा सकेगी।"
उन्होंने कहा, "टीकाकरण के लिए स्थल का निर्धारण मतदान केंद्रों के आधार पर किया गया है। प्रत्येक सत्र स्थल पर तीन कक्ष होंगे। इन सत्र स्थलों की राज्य एवं जिला स्तर के पदाधिकारियों द्वारा मॉनिटरिंग की जा रही है। वैक्सीन के रख-रखाव के लिए राज्य के सभी शीत श्रृंखला संधारण केंद्रों की मॉनिटरिंग की जा रही है।" पांडेय ने बताया कि, "वैक्सीन के रख-रखाव के लिए राज्य के प्रत्येक प्रखंड में कोल्ड-चेन हैंडलर को प्रशिक्षित किया गया है और जिला स्तर पर भी वैक्सीन व कोल्ड चेन प्रबंधकों की तैनाती की गई है। वैक्सीनेशन के बाद किसी प्रकार के दिक्कत आने पर सभी सत्र स्थलों पर नोडल पदाधिकारी को चिह्न्ति किया जा चुका है।"
कोविड 19 वैक्सीन के रख-रखाव के लिए मुख्यालय से जिला स्तर पर सबसे ज्यादा आवश्यकता आइस लांइड रेफ्रिजरेटर की होती है, जिसमें दो से आठ डिग्री तापमान पर रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि, "टीकाकरण के लिए पांच सदस्यीय टीम का गठन किया गया है, जिसके द्वारा 100 लोगों को टीका दिया जायेगा। जो लोग पहले से कोविड पोर्टल पर निबंधित हैं, उन्हीं 4 लाख 42 हजार 195 लाभार्थियों को टीका दिया जाएगा। अभी राज्य स्तर पर एक टीकौषधि भंडार, क्षेत्रीय स्तर पर 10, जिला स्तर पर 38 और प्रखंड स्तर पर 630 टीकौषधि भंडार की व्यवस्था की गई है।"

यूपी में टीकाकरण को लेकर तैयारी पूरी, सीएम योगी ने किया निरीक्षण  
उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में मंगलवार को कोरोना वैक्सीन लगाने का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) शुरू हुआ। इस दौरान राजधानी स्थित राम मनोहर लोहिया संस्थान में कोरोना वैक्सीन के लिए चल रहे पूर्वाभ्यास का औचक निरीक्षण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करने पहुंचे। बिना पूर्व सूचना के मुख्यमंत्री के पहुंचने से डॉक्टरों में अफरा-तफरी का माहौल देखने को मिला। उनके साथ में उच्च चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश व मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संजय भटनागर भी मौजूद रहे। लोहिया संस्थान के निदेशक डॉ. ए.के. सिंह की मौजूदगी में मुख्यमंत्री योगी पूर्वाभ्यास के लिए बने केंद्र पर कुछ मिनट तक रुके। लोहिया संस्थान के प्रवक्ता डॉ. श्रीकेश सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी के आने का कोई पूर्व कार्यक्रम नहीं था। उन्होंने अचानक पहुंचकर कोविड के लिए चल रहे पूर्वाभ्यास का जायजा लिया और कुछ ही मिनट रुके।
ज्ञात हो सोमवार को मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को ड्राई रन स्थल पर 45 मिनट पहले पहुंचने के निर्देश दिए थे। आज राजधानी में एसजीपीजीआई, केजीएमयू, लोहिया संस्थान, सहारा, मेदांता, लोकबंधु, रामसागर मिश्र-बीकेटी, एरा मेडिकल कॉलेज के अलावा काकोरी, माल, मलीहाबाद, इंदिरानगर में कोरोना के टीकाकरण का पूर्वाभ्यास होगा। सभी केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के भी निर्देश दिए गए हैं। ताकि इस बार पहले पूर्वाभ्यास के दौरान हुई कमियां रिपीट ना हों।
पीजीआई में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रोफेसर अमित अग्रवाल और चीफ नसिर्ंग ऑफीसर कालिब सोलंकी की देखरेख में वैक्सीन का ड्राई रन 50 लोगों पर हुआ। सीमा शुक्ला, सुजान सिंह सहित अन्य लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल किया गया। पुरानी ओपीडी में ट्रायल रन हुआ। यहां पर वैक्सीनेशन के लिए तीन कक्ष बनाए गए हैं, जहां पर अलग-अलग प्रक्रियाएं होंगी। संस्थान प्रशासन ने तय किया है कि अस्पताल में काम करने वाले सभी परमानेंट और आउटसोर्स कर्मचारियों को वैक्सीन दिया जाएगा। उधर, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि यूपी के सभी 75 जिलों में कोरोना वैक्सीन रोलआउट के लिए ड्राई रन सुबह 10 बजे शुरू होकर शाम 4 बजे तक चलेगा। यह हमें तैयारी में अंतराल की पहचान करने और सुधारात्मक कदम उठाने में मदद करेगा ताकि वास्तविक टीकाकरण होने पर सब कुछ सुचारू रूप से हो सके।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संजय भटनागर ने बताया कि पूर्वाभ्यास के लिए कुल 24 केंद्र बनाए गए हैं। प्रत्येक केंद्र पर सोमवार को देर शाम ही लॉजिस्टिक्स (पूर्वाभ्यास संबंधित साजो सामान) भेज दिया गया, ताकि किसी भी तरह की देरी की गुंजाइश न रहे। लाभार्थियों को केंद्र पर एक घंटे पहले पहुंचने के लिए कहा गया है। दूसरा पूर्वाभ्यास सुबह 10.00 बजे से शाम 4.00 बजे तक चलेगा। जिसमें दो सत्र होंगे। इसके लिए कुल 120 नोडल अधिकारी तैनात किए गए हैं। प्रत्येक सत्र में 60 नोडल अधिकारी रहेंगे।

*Ad : उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जौनपुर के जिलाध्यक्ष अमित सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
Ad

*Ad : अपना दल व्यापार मण्डल प्रकोष्ठ के मंडल प्रभारी अनुज विक्रम सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
Ad


*Ad : श्री गांधी स्मारक इण्टर कालेज समोधपुर के पूर्व प्रधानाचार्य डॉ. रणजीत सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
Ad



from Naya Sabera | नया सबेरा - No.1 Hindi News Portal Of Jaunpur (U.P.) https://ift.tt/38jQVwm

Post a Comment

0 Comments