उत्तर भारत की ओर जाने वाली ट्रेनों की बढ़ाई जाए रफ्तार : कृपाशंकर सिंह | #NayaSaberaNetwork



नया सबेरा नेटवर्क
मुंबई: मुंबई से उत्तर भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनों की रफ्तार बेहद निराशाजनक है। 50 से 60 किलोमीटर औसत दूरी तय करने वाली ट्रेनों में यात्रा करने वाले लोग थकने के साथ-साथ ऊब भी जाते हैं। रेल मंत्रालय के तमाम दावों के बावजूद उत्तर भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनों में ना तो रफ्तार देखने को मिल रही है और ना ही संतोषजनक सुविधाएं। महाराष्ट्र के पूर्व गृह राज्य मंत्री कृपाशंकर सिंह के अनुसार उत्तर भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनों से रेल विभाग को सर्वाधिक आय होती है इसके बावजूद उत्तर भारतीय रेल यात्रियों को सर्वाधिक दुर्दशा और कुप्रबंधन का सामना करना पड़ रहा है। लोगों को चार- चार हजार रुपए तक देकर दलालों से टिकट लेने पड़ रहे हैं। उत्तर भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनों की साफ-सफाई किसी से छिपी नहीं है। कृपाशंकर सिंह ने कहा कि वे जल्द ही उत्तर भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनों में हो रही दिक्कतों और मनमानी को लेकर रेल मंत्री से मुलाकात करेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर भारत की तरफ जाने वाली ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाई जाए ताकि कम समय में लोग अपने गंतव्य स्थल तक पहुंच सके।

*Ad : उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जौनपुर के जिलाध्यक्ष अमित सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
Ad

*Ad : अपना दल व्यापार मण्डल प्रकोष्ठ के मंडल प्रभारी अनुज विक्रम सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
Ad


*Ad : श्री गांधी स्मारक इण्टर कालेज समोधपुर के पूर्व प्रधानाचार्य डॉ. रणजीत सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
Ad



from Naya Sabera | नया सबेरा - No.1 Hindi News Portal Of Jaunpur (U.P.) https://ift.tt/3hVyl0T

Post a Comment

0 Comments